पर्दे मे रहने दो भाग – १७

दोनों लगभग भाग के हाउस के अन्दर आ गए और भानु तुरंत अपना सिस्टम ले के बैठ गया……मन ही मन दोनों बहुत खुश थे..जिस कशमकश में दोनों थे वो तो बड़ी आसानी से हल हो गयी…दोनों का ही मन था की कुछ किया जाए और अब वो दोनों करने की तरफ बढ़ रहे थे……भानु ने अपना लैपटॉप चालू किया…..दोनों सोफे पैर बैठे हुए थे और भानु ने लैपटॉप को अपनी गोद में रखा हुआ था…स्क्रीन थोड़ी पीछे झुका दी थी जिससे दोनों को आसानी से दिख सके…उसने अपने लैपटॉप को अपने घर वाले सिस्टम से कनेक्ट किया और फिर दोनों एक पल के लिए ठिठक से गए….भानु के मन में था की सीधे नीलू की ही पिक्स देखि जाए लेकिन वो सोच रहा था की इस बात को रानी कहे….रानी के मन में भी यही बात थी..उसने भी एक पल कुछ सोचा और फिर कह ही दिया की इस बार सबसे पहले मम्मी की पिक्स देखेंगे…….भानु को तो मन की मुराद मिल गयी थी..उसने फोल्डर में जा के उसकी कोडिंग फिट की और बहुत सारी पिक्स लिस्ट के रूप में सामने आ गयी…अभी पिक्स ओपन नहीं हुई थी लेकिन इतनी सारी पिक्स की लिस्ट देख के दोनों के मन में हलचल सी हुई…..भानु बोला की ये तो बहुत सारी पिक्स हैं….रानी ने भी हाँ कहा….फिर भानु ने कहा की एक एक पिक देखनी है या पहले जैसे सब ऑटो शो में लगा दूं अपने आप कोई भी खुलती रहेगी…रानी ने पूछा की क्या सारी पिक्स एक लाइन से आएँगी…..भानु ने बताया की नहीं कोई भी पिक कहीं से भी आ जाएगी….इस पर रानी ने कहा की नहीं. ऐसे नहीं. ऐसे में तो कोई लिंक नहीं बनेगा….ज्यादा मजा आएगा अगर हम खुद ही एक एक पिक देखें…उसमे लिंक बनेगा न..भानु ने भी बात मान ली और उसने उस लिस्ट को डेट के हिसाब से सेट किया….अब वो सारी पिक्स डेट के हिसाब से एक साथ आ गयीं……..अब दोनों पिक्स देखने के लिए तैयार थे…..रानी ने कहा की हाँ अब शुरू कर….और भानु ने पहली पिक पर क्लिक किया…..और फिर उसने उसी डेट की कुछ और पिक्स पर क्लिक किया और सब एक के बाद एक खुलती गयीं…
भानु – ये क्या है? ये मम्मी ने गाँव वालो जैसे कपडे क्यों पहने हुए हैं?
रानी – उन्हें पसंद हैं अलग अलग तरह के ड्रेस पहनना. तुझे नहीं मालूम की उनका कलेक्शन कितना बड़ा है. हर तरह की ड्रेस पहनने के शौक है मम्मी को. इसमें वो एकदम देसी वाली ड्रेस में हैं…
भानु – कहाँ की पिक्स हैं ये ?
रानी – मुझे क्या पता…मैं तो अंदाजा लगा रही हूँ बस…
भानु – अच्छी लग रही हैं न…..
रानी – हाँ. अच्छी भी और सेक्सी भी…
भानु – तू ही बोल सेक्सी. मैं बोलूँगा तो तुझे बुरा लगेगा.
रानी – नहीं लगेगा. खुल के बोल न यार…मुझे क्यों बुरा लगेगा? मैं ही तो कह रही हूँ पिक्स देखने को….बता कैसी लग रही हैं तुझे…
भानु -. मुझे उनका ये देसी वाला अंदाज बहुत मस्त लग रहा है…छोटा सा घाघरा है और चोली देख कितनी लो गले की है…
रानी – हाँ…और??
भानु – और क्या? इसमें उनका फिगर अच्छे से दिख रहा है….
रानी – तू नहीं मानेगा..चल मैं बोलती हूँ कैसी लग रही हैं…
भानु – हाँ तू बता…फिर अगली पिक्स में मैं बताऊंगा सब कुछ साफ़ साफ़…
रानी – ठीक है….ये दूसरी वाली पिक देख…दुसरे नंबर की….उसमे वो कैसे तन के बैठी हुई हैं…..ये हम लोगों का ख़ास पोज होता है…ऐसे बैठने पर हमारा पेट अन्दर हो जाता है और हमारा सीना बाहर आ जाता है जिससे हमारे उभार बहुत अच्छे से दीखते हैं ….तूने कई लड़कियों को स्कूटी चलाते देखा होगा…वो ऐसे ही बैठती है…पीठ एकदम टाइट कर के बैठने से सीना अपने आप खुल जाता है और फिर जिनके सीने छोटे छोटे होते हैं वो भी बड़े बड़े दिखने लगते हैं…इस पोज में उनका फेस का एक्स्प्रेसन भी बहुत हॉट है…जैसे एकदम मूड में हों और अपने साथी को न्योता दे रही हों..इशारा कर रही हों…….समझ में आया कुछ??? ऐसे बताया कर पिक्स के बारे में..
भानु – हाँ समझ में आया…लेकिन तूने फिर भी कंजूसी कर दी…
रानी – क्या कंजूसी कर दी?
भानु – सीना उभार ये सब तो बड़े ही सिम्पल शब्द हैं…तूने यहाँ कंजूसी कर दी…इनके लिए भी थोडा ओपन बोलना था न…
रानी – हाँ वो तो मैंने जानबूझ कर नहीं बोला….वो तो तेरे बोलने के शब्द हैं…तू बोल के बताना अगली पिक्स में तब मैं भी सीख जाउंगी…
भानु – चल चल..तू क्या सीखेगी….तू तो पहले से ही सब कुछ जानती है..
रानी – हाँ जानती हूँ. सब कुछ जानती हूँ…लेकिन तेरे सामने तो अपना ज्ञान सी तरह से पहली बार रख रही हूँ न…इसलिए डर्टी वाले वर्ड्स पहले तू बोलना फिर मैं भी बोलने लग जाउंगी….मैंने इतना तो बोला न…तू तो इतना बी नहीं बोलता…चल अब बता कौन सी पिक के बारे में बोलेगा तू….
भानु – ओके…..देखने दे पहले….हाँ मैं इस चौथी पिक के बारे में बोलूँगा जिसमे वो किसी पत्थर पर पैर मोड़ के बैठी हुई हैं…
रानी – हाँ..मस्त पिक है…अब बोल इसके बारे में….
भानु – हाँ…सोचने तो दे…..हाँ…ठीक है बोलता हूँ अब…
रानी – अब बोलेगा भी की बस हवा ही खीचता रहेगा…बोल न जल्दी…फट्टू कहीं का…
भानु – ओके ओके….इस पिक में अच्चा ये है की इसमें बहुत हॉट लग रही हैं…
रानी – चल साले…ऐसे बोलना है क्या? मैंने कितना डिटेल में बताया सब…तू भी वैसे ही बता….
भानु – हाँ बता रहा हूँ न…रुक तो सही…..ओके….इसमें उनका फिगर अच्चा दिख रहा है…वो खुद ही जानबूझ के दिखाना चाह रही हैं की सब देख लो की मेरे बदन में क्या क्या है…..जैसे उनका ब्लाउज पहले ही इतना लो कट है और उस पर वो उसे और झुक झुक के अन्दर का भी दिखा रही हैं….और उनका घाघरा भी छोटा सा है और पैर इस तरह से मोड हुए हैं की एक तरफ से बहुत उपर तक उठ गया है…और इससे उनकी जांघ अन्दर तक दिख रही है…..और दुसरे हाथ से घाघरे को थोडा उपर तक खीच लिया है जिससे दूसरी जांघ भी थोड़ी थोड़ी दिख रही है….जांघ का अन्दर वाला हिस्सा बहुत मादक लगता है देखने में..और वो वही दिखा रही हैं……सामने खड़े हुआ आदमी अगर थोडा झाँक के देखे तो उनके घाघरे के अन्दर भी देख सकता है…और फिर उसे सब कुछ दिख जायेगा……
( इतना बोल के भानु चुप हो गया..उसने जोर की सांस ली…सांस तो अब रानी की भी भरी होने लगी थी….दोनों मन ही मन बहुत खुश थे…और दोनों को इस बात का भी बहुत रोमांच हो रहा था की वो अपनी ही माँ के बारे में ऐसे बात कर रहे हैं जैसे की मॉडल को देख के कह रहे हों….उसके फिगर क्र बारे में कह रहे हैं और एक दुसरे को बता रहे हैं…एक दुसरे को गरम कर रहे हैं….भानु ने देखा की रानी बार बार अपने आप को सोफे पर सेट कर रही थी….दरअसल रानी अपनी चूत को सोफे पैर घिस रही थी..कपड़ों के उपर से उसे कुछ ज्यादा मजा तो नहीं आ रहा था चूत में लेकिन इस तरह से बैठ कर वो अपनी चूत पर ज्यादा से ज्यादा दबाव बना रही थी….हम लड़कियों को इस काम में बहुत मजा आता है..लड़के तो ऐसा नहीं कर पाते होंगे लेकिन लड़कियां कर सकती हैं..हम उपर से बिना कुछ दिखाए बिना किसी को कुछ पता चलाये ही इस तरह से बैठ जाते हैं की हमारी चूत पर पूरी बॉडी का दबाव बनता है और दबाती हुई अन्दर ही अन्दर मन को मगन कर देती है….रानी ने सोचा की भानु को पता नहीं चलेगा…लेकिन भानु पहले ही इतनी सारी चूतों की सैर कर चुका था की उसे सब पता था और वो ये समझ रहा था की रानी बार बार सोफे पर खुद को क्यों एडजस्ट कर रही है…..उसने भी थोड़ी हिम्मत की अपनी गोद पर रखे लैपटॉप को ऐसे एडजस्ट किया जैसे वो रानी को बताना चाह रहा हो की उसका लंड खड़ा हो रहा है और ये लैपटॉप उसके लंड को खड़ा होने से रोक रहा है…..रानी ने भानु की इस हरकत को देखा और समझा और बोली…)
रानी – दिक्कत हो रही हो तो लैपटॉप को सामने टेबल पर रख दे…
भानु – नहीं अभी इतनी दिक्कत नहीं हो रही..जब होने लगेगी तब रख दूंगा….अब और पिक्स देखें??
रानी – हाँ हाँ..और दिखा न….


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


sex kahani bhabhimuslim aunty ki gand marisex ki hindi kahanidehati ladki sexhindi sexx storiessaxy chodaichudai xxx comdesi ladki chudaiसक्सी tati स्टोरी bhabhijija saali ki chudai storysistar ko chodaaunty ki hawassexy aunty ki chudai hindi storyaunty chudai ki kahanikutiya ki gand marikuwari ladki chudainisha bhabhi ko chodaसलीकी चुतmaa ki chudai ki hindi kahanihindi sexy story indianteacher ki chudai kahanikahani behan kiram ki chudaiरिहाना ने मुझसे गाँड मरवाईzhagde me bhabi ki chut dikhi hindi sex storrimaa ki hawassex thamanaladki ki chutchudasi bhabhimene teacher ko chodahindi gandभाई की रखैलnangi behan ki chudaichoot lund ki kahani hindi mebhabhi ki desi chudaichudai land chutaunty storiesbhabhi ki chut or gand marigandi desi storynangi aunty chudaibur chodna haisher ki chudaihindi sexy khaniasuhagrat chudai story in hindichudai muslimChuda chudi boltikahani 2018allmeri chudaiteacher ko choda hindi storysasurji ne bahu ko chodamastani chut ki chudaisaali ki chuthindi gay sex story in hindijabardasti hindi sex storychut chudnaकॉल बॉय बनकर बहन को चोदाchut nangidesi xexmami ko choda hindi megajala sexkahani ki chudaisushma ki chudaiरतलामी बुरhindi kahani chachi ki chudaimami me chudhna shikhaya sex videochachi ki sexsex story with chachiaurat ki jawanijanwar ki chudaihindi rape kahaniKale lund se meri gand ka balatakar Hindi kahaniyamast hindi sexआह आह आवाज करती चुदाई की कहानीयाchoti bachi ko chodagirlfriend ki chudai sex storieshindi sex chudailund ka majasavita bhabhi ki chudai hindi storiesneelam ki chudaichudai padosan kixxx in hindi storyhindi sex story hindiमाँ बहन चोदbhabhi hot story in hindialia bhatt chutmaa ki chudai ki kahanimere ko chodalarki ne larki ko chodasote hue chudaiGandu hot sexcy ladkoki khani com